अब किताबें भी हुई महंगी, NCERT और इन किताबों के इतने बढ़े रेट

अप्रैल से स्कूलों में नया सत्र शुरू हो रहा है। इन दिनों अभिभावक किताबों की जुगत में जुटे हैं। इस बार महंगाई का असर कॉपी-किताबों पर भी नजर आ रहा है। केवल बाजार से मिलने वाली किताबों पर ही नहीं बल्कि राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (NCERT) की किताबें भी महंगी हो गई हैं।

NCERT के नए सिलेबस की किताबों में 20 फीसदी तक इजाफा हुआ है। दूसरी ओर निजी प्रकाशकों की किताबें तो 50 फीसदी तक महंगी हो गई हैं। ऐसे में ऐसे स्कूल जहां निजी प्रकाशकों की किताबें संचालित होती हैं, तो अभिभावकों की जेब कटना तय है।

NCERT किताबों के नए स्टॉक में 10 से 20 फीसदी तक ही वृद्धि हुई है। NCERT में 12वीं कॉमर्स विषय का सिलेबस के दाम अधिक हैं। NCERT में पहली से पांचवीं और छठवीं से आठवीं तक की पुस्तकों के दाम में 10 प्रतिशत तक ही बढ़ोतरी हुई है।

महंगी किताबों का यह बोझ सीधेतौर पर अभिभावकों के सालभर के मैनेजमेंट को गड़बड़ा देता है। एनसीईआरटी के अलावा अगर निजी प्रकाशकों की बात करें तो इस बार पहले के मुकाबले किताबें कहीं अधिक महंगी मिलने वाली है। जानकारी के अनुसार निजी प्रकाशकों की किताबें 40 से 50 फीसदी तक महंगी हो गई हैं।

पुस्तकों के दाम पर नजर

कक्षा  नए दाम    पुराने दाम
एक से पांचवीं तक  800 720
छठवीं से आठवीं तक 640 580
नौवीं और दसवीं तक  1000  840
11वीं और 12वीं तक (कॉमर्स)  2000  1750
विज्ञान  1300 1100
कला  900  800

शेयर करें !
posted on : March 19, 2023 12:20 pm