टेक्नोलॉजी: मोबाइल आप भी चलाते ही होंगे, अगर उसमें हो रहा कुछ ऐसा, तो हो जाइए सतर्क

मोबाइल हर कोई चलता है। इंटरनेट भी सभी यूज करते हैं। इंटरनेट के साथ कई खतरे भी साथ में आते हैं। सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने तक और ऑनलाइन बैंकिंग से लेकर ओटीटी देखने तक में स्मार्टफोन का इस्तेमाल किया जाता है। ऐसे में फोन और उसके डाटा को सुरक्षित रखना बेहद जरूरी हो जाता है।

इस दौरान एक बड़ा खतरा हैकिंग और डाटा लीक का बना रहता है। हैकर्स द्वारा एंड्रॉयड फोन यूजर्स को आसानी से शिकार बनाया जा सकता है। यदि आपको अपने फोन में ये पांच संकेत नजर आ रहें हैं तो आपके डिवाइस के हैक होने की संभावना काफी ज्यादा है। यहां हम हैकिंग से बचने का तरीका भी बता रहे हैं। चलिए जानते हैं।

अचानक से स्लो हो जाना
ये सबसे जरूरी और गौर करने वाला संकेत है। यदि आपका स्मार्टफोन भी अचानक से जरूरत से ज्यादा स्लो काम कर रहा है या बहुत हैंग कर रहा है तो सावधान हो जाएं। दरअसल हैकिंग के दौरान डिवाइस में कई सारे प्रोग्राम बैकग्राउंड में काम कर रहे होते हैं, जो डिवाइस को स्लो कर देते हैं। इसके अलावा इंटरनेट स्पीड सही होने के बाद भी आपको फोन में इंटरनेट इस्तेमाल में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा हो या डाटा जरूरत से ज्यादा कंज्यूम हो रहा हो तो भी आपको अलर्ट रहना चाहिए।

अपने आप बंद होना और रीस्टार्ट होना
फोन हैक होने का यह भी एक संकेत है कि अगर आपका स्मार्टफोन लगातार अपने-आप बंद हो रहा है या फिर री-स्टार्ट हो रहा है तो आपको समझ जाना चाहिए कि आपका सिस्टम हैकर के कब्जे में है। इसके अलावा आपके फोन की सेटिंग्स और एप में अपने आप बदलाव हो रहा है तो भी आप हैकर्स के कब्जे में हैं।

बैटरी हो रही जल्दी खत्म
यदि आपके फोन की बैटरी अचानक से जल्दी खत्म हो रही है तो यह भी फोन हैक होने का संकेत हो सकता है। दरअसल, फोन हैक होने के बाद हैकर्स कई सारे मैलवेयर, एप और डाटा को प्रोसेस करते हैं, जो काफी बैटरी कंज्यूम करता है।

बैंकिंग ट्रांजेक्शन
बैंकिंग ट्रांजेक्शन, हैकिंग का सबसे बड़ा संकेत है। यदि बिना किसी कारण से आपके बैंक में अनाधिकृत ट्रांजेक्शन हो रहे हैं तो समझ जाइए हैकर्स आपके फोन और बैंकिंग एप में सेंध लगा चुके हैं। कई बार ऑनलाइन शॉपिंग और उन प्रोडक्ट्स की खरीदारी और ट्रांजेक्शन के मैसेज आपको मिलने लगते हैं जिन्हें आपने किया ही नहीं होता। इसका मतलब है कि आपकी बैंकिंग डिटेल किसी के हाथ लग गई हैं। ऐसा होने पर तुरंत बैंक की मदद लें और अकाउंट से ट्रांजेक्शन को बंद करवा दें।

हैक हो जाए तो क्या करें
यदि आपका फोन हैक हो गया है तो आप फोन को तुरंत फॉर्मेट कर दें। ध्यान दें कि फोन को फैक्ट्री रीसेट करें और इससे आपका डाटा भी चला जाएगा। याद रखें कि फोन के डाटा को बैकअप करने की कोशिश न करें क्योंकि इससे मैलवेयर आपके डिवाइस में ही रह जाएंगे और फोन को फॉर्मेट करने का कोई फायदा नहीं रहेगा। हालांकि पहले से जो डाटा आपने बैकअप कर लिया था आप उसे वापस पा सकते हैं। साथ ही बैंकिंग ट्रांजेक्शन दिखने पर तुरंत बैंक की मदद लें और अकाउंट से ट्रांजेक्शन को बंद करवा दें।

शेयर करें !
posted on : October 26, 2023 1:08 pm