posted on : सितंबर 4, 2022 10:54 am
शेयर करें !

उत्तराखंड: STF की बड़ी कार्रवाई, नकल माफिया का साथी गिरफ्तार, लाखों बरामद

देहरादून: देहरादून: उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग भर्ती पेपर लीक मामले में आज एसटीएफ ने 34वीं गिरफ्तारी की है। पुख्ता साक्ष्य और टेक्निकल एविडेंस के आधार पर अभियुक्त संपन्न राव को गोमतीनगर लखनऊ से गिरफ्तार किया गया है। अभियुक्त मूल रूप से गाजीपुर उत्तर प्रदेश का निवासी है और इनामी नकल सरगना सादिक मूसा का साथी है। जिससे लाखों की नगदी भी बरामद हुई है।

UKSSSC पेपर लीक मामला: STF ने नकल सरगना सादिक मूसा के साथी संपन्न राव को यूपी से किया गिरफ्तार। अब तक 34 गिरफ्तार, 92 लाख कैश बरामद। कई अवैध संपति की जानकारी, कई बैंक खाते सीज कर दिया है।

STF Uttarakhand को उत्तर प्रदेश के नकल माफियाओं के अहम साथी को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है। पुख्ता साक्ष्य और टेक्निकल एविडेंस के आधार पर अभियुक्त संपन्न राव को गोमतीनगर लखनऊ से गिरफ्तार किया गया है।

अभियुक्त मूल रूप से गाजीपुर उत्तर प्रदेश का निवासी है। संपन्न राव द्वारा परीक्षा से पहले अन्य अभियुक्त के साथ परीक्षा से पहले हल्द्वानी में आकर रुकना और पेपर लीक करने में अहम भूमिका पाई गई है। अभियुक्त संपन्न से परीक्षा लीक प्रकरण से प्राप्त 3.80 लाख भी बरामद हुए हैं।

गिरफ्तार अभियुक्त संपन्न राव नकल सरगना सैय्यद सादिक मूसा का साथी है। बता दें कि, सादिक मूसा पर एसटीएफ ने 25 हजार का इनाम घोषित किया है, जो फिलहाल फरार है।

वहीं, पेपर लीक मामले में पहले से गिरफ्तार अन्य अभियुक्त विपिन बिहारी के घर से परीक्षा में पेपर लीक के माध्यम से प्राप्त 6 लाख भी उसके लखनऊ स्थित आवास से बरामद किए गए हैं।

एसटीएफ ने बताया कि, यूकेसीएसएसस पेपर लीक मामले में 34 गिरफ्तारियों के साथ ही अब तक कुल 92 लाख कैश बरामद किए जा चुका है। साथ ही पूर्व में गिरफ्तार अभियुक्तगणों की करोड़ों की अवैध संपत्ति का भी पता लगाया गया। दर्जनों बैंक अकाउंट को फ्रिज भी किया जा चुका है।

error: Content is protected !!