पिथौरागढ़ के जवान निधन, चार दिन से पार्थिव शरीर का कर रहे इंतजार

भारतीय सेना की 432 इंडिपेंडेंट इंजीनियर स्कॉर्डन में सेवारत पिथौरागढ़ के सैनिक पंकज कन्याल का टावर से गिरने के कारण निधन हो गया। लेकिन, चार दिन बाद भी उनका पार्थिव शरीर घर नहीं लाया जा सका है।

पिथौरागढ़ के पवन विहार कालोनी निवासी पंकज कन्याल का टॉवर से गिरकर निधन हो गया। बताया जा रहा है कि पंकज कन्याल पुत्र श्याम सिंह जम्मू-कश्मीर में तैनात थे। चार दिन पहले टावर से गिरने के कारण उनका निधन हो गया था। लेकिन अब तक उनका पार्थिव शरीर उनके घर नहीं लाया जा सका है।

बताया जा रहा है कि उनका पार्थिव शरीर पिथौरागढ़ लाया जा रहा है। मंगलवार को उनका अंतिम संस्कार पिथौरागढ़ के मुवानी की रामगंगा नदी घाट पर किया जाएगा। उनके निधन की खबर के बाद से पत्नी और मां बेसुध पड़ी हुई है। मिली जानकारी के मुताबिक पंकज की शादी दो साल पहले हुई थी और उनका एक छह महीने का बेटा है।

सैनिक पंकज कन्याल के ताऊ कै.जसवंत सिंह कन्याल का कहना है कि जवानों के पार्थिव शरीर को घर तक लाने के लिए हेलीकॉप्टर की व्यवस्था होनी चाहिए। चाहे पार्थिव शरीर का इतने दिनों तक इंतजार करना परजनों के लिए अत्यंत पीड़ादायी है। इस से पहले से ही दुखी परिवार को ज्यादा दुख सहना पड़ता है।

चार दिन होने के बाद जवान का पार्थिव शरीर घर ना पहुंचने पर पूर्व सैनिक संगठन के अध्यक्ष ललित सिंह का कहना है कि सेना की ओर से ड्यूटी के दौरान शहीद होने या फिर किसी हादसे में जान गंवाने वाले सैनिकों का पार्थिव शरीर घर तक पहुंचाने के लिए हेलीकॉप्टर की व्यवस्था होनी चाहिए।

शेयर करें !
posted on : December 26, 2023 3:21 pm
<
error: Content is protected !!