उत्तराखंड: बेकाबू डेंगू, CM धामी ने संभाली कमान, सवालों में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी!

देहरादून : प्रदेश भर में खासकर राजधानी देहरादून में डेंगू का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। सरकारी से लेकर प्राइवेट अस्पतालों तक में डेंगू मरीजों की संख्या हर दिन बढ़ती जा रही है। हालात को बेकाबू होते देख मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने खुद कमान संभाल ली है। उन्होंने अपने सचिव और गढ़वाल कमिश्नर विनय शंकर पांडे को डेंगू की स्थिति पर नियंत्रण पाने के लिए जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि फॉगिंग और अस्पतालों में डेंगू के मरीजों के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जिन क्षेत्रों में डेंगू के मामले बढ़ रहे हैं।

ऐसे क्षेत्रों में लगातार सतर्कता अभियान चलाया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि डेंगू से बचाव के लिए व्यापक स्तर पर चलाए जा रहे जागरूकता अभियान को और गति दी जाए और स्वच्छता का विशेष ध्यान रखा जाए।

अब बड़ा सवाल होता है कि जब स्वास्थ्य सचिव भी ही देहरादून में ही हैं, फिर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को क्यों खुद कमान संभालनी पड़ी? क्या स्वास्थ्य सचिव से व्यवस्थाओं को नहीं संभाल पा रहा हैं? यह सवाल भी लोग इसलिए भी उठा रहे हैं कि एक्टिव नजर आने वाले स्वास्थ्य सचिव डेंगू की स्थिति पर काबू पाने में क्यों फेल साबित हो रहे हैं। स्वास्थ्य सचिव हर दिन किसी ना किसी वजह से खबरों में बने रहते हैं।

डेंगू की बेकाबू स्थिति को लेकर स्वास्थ्य मंत्री धन सिंह रावत पहले ही अधिकारियों को सख्त निर्देश दे चुके थे। अब सीएम धामी के कमान संभालने से इस बात की भी चर्चा हो रही है कि क्या अधिकारी स्वास्थ्य मंत्री की नहीं सुन रहे हैं? आखिर क्यों सीएम धामी को खुद स्थिति को संभालने के लिए सामने आना पड़ा।

स्वास्थ्य विभाग ने तमाम दावे डेंगू के बचाव को लेकर किए थे। लेकिन, जिस तरह से लगातार डेंगू के मरीज बढ़ रहे हैं। उससे स्वास्थ्य विभाग की तैयारियों की पोल खुल गई है। केवल देहरादून ही नहीं के हरिद्वार समेत कुछ अन्य जिलों में भी डेंगू लगातार पैर पसार रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने डेंगू के लार्वा को खत्म करने के लिए अभियान चलाने की भी बात कही थी। लेकिन, अस्पतालों में डेंगू मरीजों की बढ़ती भीड़ बता रही है कि स्वास्थ्य महकमा फेल साबित नजर आ रहा है।

सवाल यह भी है कि क्या मंत्री अपना काम सही है नहीं कर पा रहे हैं? वन विभाग से लेकर हर विभाग में भी सीएम धामी को ही एक्शन लेना पड़ रहा है। सीएम ही हर जगह एक्टिव नजर आ रहे हैं। चाहे आपदा की स्थिति हो या फिर कोई दूसरी मुश्किल, हर जगह सीएम धामी ही संकटमोचक की भूमिका में नजर आ रहे हैं।

शेयर करें !
posted on : September 5, 2023 7:04 pm