उत्तराखंड: कहीं आपको भी ना ‘ठग ले बेटे का दोस्त’, साइबर ठगी का ऐसा मामला, पुलिस भी हैरान

  • साइबर ठगी के हर दिन नए मामले सामने आ रहे हैं।

  • साइबर ठगी का अनोखा प्लान।

देहरादून: साइबर ठगी के हर दिन नए मामले सामने आ रहे हैं। साइबर ठग लगातार नए-नए तरीके आजमा रहे हैं। ऐसे मामले सामने आ रहे हैं, जिनके बारे में जानकर पुलिस भी हैरान है। खास बात यह है कि साइबर ठग आपको दुनिया के किसी भी कोने में बैठकर आपको ठग सकते हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है।

साइबर ठगों ने ठगी का ऐसा अनोखा प्लान बनाया कि पुलिस भी हैरान रह गई। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। बेटे का दोस्त बताकर 9.40 लाख ठग लिए। आरोपी को STF ने गिरफ्तार कर लिया है।

आरोपी के खिलाफ देशभर में कई शिकायतें हैं। अब तक 35 लाख रुपये की ठगी का पता लग चुका है। वह पाकिस्तान, दुबई और सऊदी में रहने वाले लोगों के वेतन को भारतीय मुद्रा में बदलकर भारतीय खातों में भेजने का झांसा देकर भी धोखाधड़ी करता था। SSP STF आयुष अग्रवाल ने बताया कि बीते जून में पटेलनगर निवासी एक व्यक्ति को किसी का फोन आया था।

फोन करने वाले ने बताया कि वह उनके बेटे का दोस्त बोल रहा है। वह भी कनाडा में उनके बेटे के साथ रहता है। खुद का नाम सरब बताते हुए युवक ने कहा कि वह भारत में जमीन खरीदना चाहता है। इसलिए उसने 15 लाख रुपये उनके खाते में जमा किए हैं। इसका उसने एक मैसेज भी उन्हें भेज दिया।

मैसेज देखकर उनको यकीन हो गया। इसके कुछ दिन बाद फोन आया कि वह ढाई लाख रुपये एक टैक्सी ड्राइवर को भेज दें उसकी मां की तबीयत खराब है। उन्होंने यह रकम जमा कर दी। इसके बाद फिर से किसी न किसी बहाने से उनसे पैसे जमा कराता रहा। कुल मिलाकर उनसे 9.40 लाख रुपये ठग लिए।

खातों और मोबाइल नंबर की जांच के बाद STF ने आरोपी धर्मेंद्र निवासी लोसेल, दतारामगढ़, सीकर राजस्थान को गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से बैंक पासबुक और एक मोबाइल फोन बरामद हुआ है। साइबर थाने के CO अंकुश मिश्रा ने बताया कि आरोपी से अन्य घटनाओं को लेकर भी जानकारी जुटाई गई है।

शेयर करें !
posted on : November 10, 2023 4:24 pm