उत्तरकाशी: विधायक ने ई-को टैक्स पर कटा हंगामा, जिला पंचायत अध्यक्ष का चढ़ा पारा, VIDEO जारी कर कही बड़ी बात…

बड़कोट: उत्तरकाशी जिला पंचायत हमेशा ही चर्चाओं में रहती है। जब से दीपक बिजल्वाण जिला पंचायत अध्यक्ष बने हैं, तब से लगातार हर चर्चा के केंद्र में वही रहते हैं। दीपक बिजल्वाण और यमुनोत्री विधायक यंजय डोभाल के बीच एक बार फिर सियासी घमासान छिड़ गया है। मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इस मामले में विधायक के खिलाफ थाने में शिकायत भी दर्ज कराई जा चुकी है। दीपक बिजल्वाण ने वीडियो जारी कर विधायक को करारा जवाब दिया है।

दरअसल, यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने के दिन पाली गाड़ के पास विधायक संजय डोभाल ने जिला पंचायत के ई-को टैक्स के बैरियर पर जाकर सरकार कागज बाहर फेंक दिए। उनका आरोप था कि जिला पंचायत लोगों से गलत टैक्स वसूल रही है। उन पर कर्मचारियों ने जान से मारने की धमकी देने के भी आरोप लगाए हैं। जबकि, ई-को टैक्स सरकार के गजट नोटिफिकेशन के अनुसार लिया जा रहा है।

इस पर जिला पंचायत अधयक्ष दीपक बिजल्वाण ने विधायक को आड़े हाथों लिया है। उनका कहना है कि पहले बात तो यह है कि विधायक को सरकारी दस्तावेजों के साथ उन्होंने जो किया वह नहीं किया जाना चाहिए था। उन्होंने कहा कि वहां दादागिरी दिखाने क्या जरूरत थी? जिला पंचायत या फिर जिलाधिकारी से भी पूछ सकते थे।

दीपक बिजल्वाण ने कहा कि बाहर से आने वाले वाहनों से ही टैक्स लिया जा रहा है। जिस तरह से मसूरी या राज्य की दूसरी जगहों  पर टैक्स लिया जाता है। वैसा ही लिया जा रहा है, इसमें कुछ भी गलत नहीं है। सरकार ने जो नियम बनाया है, उसीका पालन किया जा रहा है। लेकिन, विधायक को जिला पंचायत के कामों से दिक्कत है। उनको दीपक बिजल्वाण के नाम से परेशानी है।

जिला पंचायत अध्यक्ष ने कहा कि अगर उनको इतनी ही चिंता है तो बड़कोट की पानी की समस्या दूर क्यों नहीं की? बड़कोट अस्पताल रेफर सेंटर बना हुआ है। उसका समाधान क्यों नहीं कराते? चिन्यालीसैड़ अस्पताल में अल्ट्रासाउंड के लिए डॉक्टर नहीं है। उसके लिए क्यों आवाज नहीं उठाते?

इसके अलावा दीपक बिजल्वाण ने विधायक संजय डोभाल के भाई पर भी बगैर नाम लिए निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि बड़कोट में अब ना कोई मोहम्मद गजनवी आएगा और ना यहां अतीक अहमद पनपने दिया जाएगा। यमुना जी का सीना जिस तरह से चीरा जा रहा है। अब चुप नहीं बैठेंगे।

विधायक संजय डोभाल का का कहना है कि बाहरी आक्रांता, मोहम्मद गजनी जैसे लोगों द्वारा चार धाम यात्रा से जुड़े तीर्थयात्रियों के लिए यात्रा को असुविधाजनक बनाए जाने के मामले को किसी भी रूप में स्वीकार नहीं किया जाएगा। इस प्रकार से अवैध वसूली किया जाना तीर्थयात्रियों के लिए कष्टकारी है जो कि यात्रा के सफल संचालन में एक बहुत बड़ी बाधक घटना है जिसे कि यमुनोत्री विधान सभा किसी भी रूप में बर्दास्त नही करेगी।

यमुनोत्री विधायक और जिला पंचायत अध्यक्ष दीपक बिजल्वाण के बीच सियासी जंग किसी से छुपी नहीं है। दोनों एक-दूसरे कि खिलाफ कोई मौका नहीं छोड़ते। अब देखते हैं कि दोनों के बीच की इस ताजा जंग का क्या परिणाम निकलता है?

शेयर करें !
posted on : May 12, 2024 3:51 pm
error: Content is protected !!