posted on : अक्टूबर 29, 2022 3:51 pm
शेयर करें !

उत्तराखंड: मानसून की पहली बारिश ने मचा दी तबाही, नाले में बहा व्यापारी, मकान ध्वस्त, यहां बह गई पूरी सड़क

नैनीताल: मानसून के दस्तक देते ही भारी का दौर क्या शुरू हुआ। प्रदेशभर में जनजीवन पूरी तरह पटरी से उतर गया। मैदान से पहाड़ तक भारी बारिश के कारण लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। खासकर कुमाऊं में मौसम विभाग का पूर्वानुमान एकदम सटीक साबित हुआ। भारी बारिश के कारण कई मार्ग बंद हो गई हैं। उफनाए नाले में व्यापारी बाइक समेत बह गया। बागेश्वर में मकान ध्वस्त हो गया।

नैनीताल, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में देर रात हुई जोरदार बारिश के कारण पहाड़ी से मलबा सड़कों पर आ गया, जिसके चलते कई सड़क मार्ग बंद हो गए। पिथौरागढ़ में उफनाए नाले को पार करने के दौरान व्यापरी बाइक के साथ बह गया। बागेश्वर में सरयू नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। धारचूला में काली नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।

भारी बारिश से तवाघाट लिपुलेख, थल- मुनस्यारी मार्ग सहित तेरह मार्ग बंद है। जिसमे 11 ग्रामीण मार्ग है। पिथौरागढ़ के पांखू कोटमन्या मार्ग पर बह रहे नाले को पार करते समय व्यापारी बाइके साथ बह गया। हादसे में व्यापारी की मौत हो गई। व्यापारी गणेश पाठक 48 वर्ष निवासी दशौली अपनी बाइक से पांखू कोटमन्या मार्ग पर आ रहा था।

नैनीताल में सुबह से हो रही तेज बारिश से नैनीताल भवाली रोड भी काफी देर तक बंद रहा। भवाली रोड कैलाखान से आगे मलबा आने से सड़क बंद हो गई। जिससे दोनों ओर वाहनों की कतार लग गई। बागेश्वर में भारी बारिश से कई रास्ते बंद हो गए हैं। कपकोट ब्लॉक का असो में स्थापित उपकेंद्र फार्मासिस्ट, बारिश से टूट गया।

असो फाल्दा सड़क बह गई। बारिश से क्षेत्र में नेटवर्क भी ध्वस्त हो गया है। सरयू नदी का जलस्तर बढ़ने के कारण पुलिस ने लोगों को बार-बार सचेत कर रही है। देर रात भी पुलिस ने सो रहे लोगों को घरों से बाहर निकाला। कपकोट उत्तरोडा में एक मकान ध्वस्त हो गया वहीं परिजन बाल बाल बच गए। बाइक, कार भी मलबे में दबे होने की सूचनाहै।

Leave a Reply

error: Content is protected !!