posted on : जनवरी 26, 2022 10:22 am
शेयर करें !

उत्तराखंड से दु:खद खबर : लोक गायिका की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, कई जौनसारी गीतों को दी थी आवाज

देहरादून: 22 साल की  लोकगायिका ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। जौनसारी में कई गीत गाने वाली गायिका संजना राज का शव पंखे से लटका मिला। वह देहरादून के नेहरू कालोनी में किराये पर रह रही थीं। घटनास्थल पर कोई सुसाइड नोट नहीं मिलने से मौत का कारण अब तक स्पष्ट नहीं हो पाया है। कम समय में ही क्षेत्र में अच्छी पहचान बनाने वाली संजना राज की असमय मौत से स्थानीय क्षेत्रवासियों में शोक की लहर है।

पुलिस के अनुसार, गुरुवार को थाना नेहरू कॉलोनी पर सूचना मिली कि, एक महिला ने H- ब्लॉक, नेहरू कॉलोनी में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। सूचना पर तत्काल चौकी इंचार्ज फव्वारा चौक मय हमराह पुलिस बल के मौके पर पहुंचे। जहां संजना (उम्र 22 वर्ष) पुत्री भीम दास, निवासी मलेथा, सैय्या, थाना कालसी जनपद देहरादून ने नेहरू कॉलोनी में किराए के कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या की गई है।

मौके से 108 सेवा के माध्यम से उक्त महिला को जिला अस्पताल देहरादून ले जाया गया। जहां डॉक्टर ने महिला को मृत घोषित किया। मृतका के परिजनों को इस संबंध में सूचना दी गई, जो जिला अस्पताल देहरादून में आए। परिजनों की मौजूदगी में पंचायतनामा की कार्रवाई कर कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। आत्महत्या के कारणों के संबंध में जांच की जा रही है।

बताया जा रहा है कि, नेहरू कॉलोनी स्थित मकान में किराये पर उनके साथ दो महीने से एक अंकित नाम का युवक भी रहता था। दोनों लिव इन में रहते थे या सिर्फ दोस्त थे, इस बात की जांच की जा रही है। युवक यहां एक एप के ऑफिस में काम करता है। बताया जा रहा है कि, दोनों ने सगाई भी कर ली थी। हालांकि, अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हो सकी है।

किसी तरह के झगड़े या अनबन की बात भी सामने नहीं आई है। उससे पूछताछ की जा रही है। संजना राज ने जौनसारी में कई गीत (गाए थे। दून में संजना संगीत का प्रशिक्षण लेने के साथ ही एक निजी कंपनी में नौकरी भी करती थीं। उनके देवा बिजिटा, लोक हारुल, तेरी शादी री चिठ्ठी, साथो की अनामिका जैसे कई गीत हैं।

error: Content is protected !!