posted on : फरवरी 10, 2022 3:07 pm
शेयर करें !

गढ़वाल-कुमाऊं में तबाही, मलबे में दबने से 2 महिलाओं की मौत, घर छोड़कर भागे लोग

पिथौरागढ़/रुद्रप्रयाग: भारी बारिश ने तबाही मचाई है। भारी के कारण कई जगहों पर भूस्खलन हुआ है। नेपाल के दारचूला में बादल फटने से पिथौरागढ़ के सीमावर्ती क्षेत्रों में भारी तबाही मची है। पिथौरागढ़ के धारचूला में एक महिला की मौत हो गई है। दूसरी ओर आज सुबह रुद्रप्रयाग में उखीमठ ब्लॉक के तुलंगा गांव में सुरजी देवी गौशाला जा रही थी। तभी अचानक मलबा आ गया, जिससे वह मलबे में दब गई।

भारी बारिश के कारण गुप्तकाशी कालीमठ कोटमा मार्ग विद्यापीठ और भैरवघाटी पर मलबा आने से अवरुद्ध हो गए हैं। जबकि नाला जाखधार मार्ग इंटर कॉलेज गुप्तकाशी के निकट पुस्ता धंसने से बंद हो गया है। वहीं, नेपाल में पांच लोगों की मौत की सूचना है।

उत्तराखंड : यहां देर रात आसमान से बरसी आफत, बादल फटने से भारी तबाही

लोगों की दिक्कतें कम होती नजर नहीं आ रही है। मौसम विभाग ने अगले पांच दिनों के लिए भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है। नैनीताल, चमोली और बागेश्वर जिले में अगले 24 घंटे के दौरान भारी बारिश होने की संभावना जताई है। मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है। इसी के साथ शासन, जिला प्रशासन के साथ ही आपदा प्रबंधन से जुड़े अफसरों को 24 घंटे सतर्क रहने को कहा गया है।

error: Content is protected !!