posted on : अक्टूबर 21, 2022 1:20 pm
शेयर करें !

उत्तराखंड: अग्निवीर भर्ती का VIDEO वायरल, लोग पूछ रहे SDM है या गुंडा?

पौड़ी: अग्निवीर की भर्ती कोटद्वार और रानीखेम में शुरू हो गई है। सरकार दावे कर रही है कि अग्निवर भर्ती में पहुंचे युवाओं के लिए व्यवस्था बनाने के लिए प्रशासनिक अधिकारी तैनात किए गए हैं, लेकिन कोटद्वार में जो हुआ, वो सरकार की छवि को धूमिल करने वाला तो है, ही साथ ही यह भी सवाल खड़े करने वाला है कि क्या एक एसडीएफ ऐसे गुडों की तरह किसी से बात कर सकता है। इतना ही नहीं युवक पर हाथ भी चलाया। क्या सरकार इस पर कोई कार्रवाई करेगी।

 

उत्तराखंड: स्टोन क्रेशर, बसों, डंपर, पोकलैंड और कई बीघा जमीन का मालिक है ये नकल माफिया हैरान करने वाला खुलासा 

कोटद्वार के गबर सिंह कैंप में शनिवार से अग्नीवीरों की भर्ती शुरु हो गई है. बीते दिन कई युवाओं ने 1600 मीटर की दौड़ लगाई। कुछ इस दूरी को पूरी कर पाए तो कुछ हांफ गए. कुछ युवाओं ने सरकार पर आरोप भी लगाए। वहीं, सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है जो की पौड़ी के एसडीएम का बताया जा रहा है। इस वीडियो में अग्निवीर भर्ती के बच्चे भी नजर आ रहे हैं। वहीं इस भर्ती में कमियों को गिनाते हुए युवाओं ने आक्रोश जताया। इस अग्निवीर भर्ती का जगह जगह विरोध अभी भी हो रहा है।

यहां देखें VIDEO : उत्तराखंड: अग्निवीर भर्ती का VIDEO वायरल, लोग पूछ रहे SDM है गुंडा?

युवा इस भर्ती से नाखुश हैं। अग्निवीर भर्तियों में युवाओं को सम्मिलित ना करने और प्रमाण पत्र के नाम पर प्रताड़ित करने के विरोध करने कांग्रेस एसडीएम से बात करने पहुंची। आरोप है कि पौड़ी एसडीएम ने कांग्रेस के प्रदेश महासचिव  युवा नितिन बिष्ट से अभद्रता गाली गलौच की जिस पर अब कांग्रेस में उबाल है। हालांकि वायरल वीडियो का मात्र 12 सेकेंड का ही हिस्सा ही वायरल हो रहा है।

उत्तराखंड: DGP ने दिए जांच के निर्देश UKPSC की इस भर्ती पर उठे सवाल 

एसडीएम के इस रवैये से कांग्रेस में उबाल है। कांग्रेस का कहना है कि पौड़ी एसडीएम का जनता के प्रति ये दुर्व्यवहार खराब है। कैसे जनता अपनी आवाज उठाएगी। उत्तराखंड में जनता की आवाज को दबाने के लिए हरसंभव प्रयास कर रहे हैं। कांग्रेस ने और आम जनता ने मुख्यमंत्री उत्तराखंड से आग्रह किया है कि पौड़ी एसडीएम पर कार्रवाई की जाए और तत्काल प्रभाव से उन्हें हटाया। हालांकि, आधिकारिक पुष्टि होने तक हम इसकी अपनी और से पुष्टि नहीं कर सकते हैं।

error: Content is protected !!