posted on : सितंबर 25, 2022 2:37 pm
शेयर करें !

उत्तराखंड : अग्निवीर बनने ‘अमित’ बनकर आया ‘ताहिर’ खान, पहुंचा सलाखों के पीछे

रानीखेत : अग्निवीर भर्ती में फर्जी दस्तावेज लगाकर भर्ती का मामला सामने आया है। अग्निवीर भर्ती के लिए आए युवक के दस्तावेज और प्रवेश पत्र में गड़बड़ी होने के चलते सेना के अधिकारियों को उस पर शक हुआ, जिसके बाद संदिग्ध युवक को सेना के अधिकारियों ने पुलिस के हवाले कर दिया।

मिलट्री इन्टेलीजेंस, मिलट्री पुलिस एवं भर्ती कार्यालय की संयुक्त कार्रवाई के दौरान एक युवक को फर्जी दस्तावेजों के होने की शक पर मौके पर पकड़कर पुलिस को सूचित कर हैण्डओवर किया गया। उसके बाद रानीखेत पुलिस द्वारा मौके पर पहुंचकर जांच की गयी तो पाया कि एक युवक जिसका नाम ताहिर खान पुत्र अहसान खान निवासी अलीपुरा थाना ककोड़ तहसील सिकन्दराबाद जिला बुलन्दशहर (उत्तर प्रदेश) का रहने वाला है।

हाकम की कहानी…सोशल मीडिया में हो रही वायरल लास्ट तक जरूर पढ़ें

उसने अपने फर्जी स्थाई निवास, जाति निवास प्रमाण पत्र, आधार कार्ड जनपद नैनीताल के हल्द्वानी से बनाये गये हैं, उक्त ताहिर खान को निर्गत एडमिट कार्ड में दर्ज रजिस्ट्रेशन नम्बर किसी अन्य व्यक्ति के नाम पर रजिस्टर्ड है। प्रकरण में ARO भर्ती बोर्ड की शिकायत के आधार पर ताहिर खान को गिरफ्तार कर कोतवाली रानीखेत में मुकदमा दर्ज किया गया।

उत्तराखंड: अब विधानसभा भर्तियों की जांच की मांग ने पकड़ा जोर ये हैं बड़ी वजह 

रानीखेत CO डीआर वर्मा ने बताया कि अग्निवीर भर्ती होने आए उत्तर प्रदेश बुलंदशहर के ताहिर ने अपना प्रवेश पत्र अमित के नाम से बनवाया था, जिस पर सेना के अधिकारियों को शक हुआ और उन्होंने संदिग्ध युवक की जानकारी पुलिस को दी, जिसके बाद पुलिस ने अभियोग पंजीकृत कर जेल भेज दिया।

CM धामी का बड़ा फैसला निरस्त होंगी गड़बड़ी वाली भर्तियां गैंगस्टर और मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट में कार्रवाई के निर्देश

इस मामले में कुछ और सवाल भी खड़े हो रहे हैं कि आखिर कैसे उसके फर्जी दस्तावेज तैयार हो गए। आधारकार्ड से लेकर जाति प्रमाण पत्र और अन्य सभी दस्तावेज आसानी से कैसे बन गए। वो कौन लोग थी, जिन्होंने उसके कागज तैयार किया। उनके खिलाफ भी एक्शन लिया जाना चाहिए।

error: Content is protected !!