उत्तराखंड : गजब! कहानीः लड़की बोली मेरा पति आधी रात उठकर करता है श्रृंगार

  • ये कहानी सच्ची है, लेकिन लगती पूरी फिल्मी है।

  • 80 लाख रुपये खर्च कर बेटी की शादी धूमधाम से कराई।

हरिद्वार: ये कोई बनावटी कहानी नहीं है। ना ही किसी फिल्म की स्क्रिप्ट है। ये कहानी सच्ची है, लेकिन लगती पूरी फिल्मी है। माता-पिता ने बेटी की शादी में कोई कमी नहीं छोड़ी। कार दी, 21 लाख रुपये नकद दिए। 18 तोला सोना भी दान दिया। कुलमिलाकर 80 लाख रुपये खर्च कर बेटी की शादी धूमधाम से कराई।

लेकिन, उनको क्या पता था कि वो अपनी बेटी को एक ऐसा सख्श को सौंप रहे हैं, जो आधी रात को उठकर नेल पॉलिश लगाता है। लिपिस्टिक से अपने होंठ लाल करता है। एकदम लड़कियों की तरह श्रृंगार करने लगता है। पत्नी के साथ पति का संबंध भी नहीं रखता है।

इस कहानी का खुलासा तब हुआ, जब बेटी ने अपनी आपबीति अपने परिजनों को सुनाई। बेटी की दास्तां सुनकर उनके पैरों तले से जमीन खिसक गई। लड़की ने अब इस मामले में महिला आयोग में शिकायत की है। शिकायत में कहा है कि मेरा पति समलैंगिक है।

वह रात में आईने के सामने खड़े होकर शृंगार करता है। लिपस्टिक और नेल पॉलिश लगाता है। एक दिन रात को नींद खुली तो उसे शृंगार करता देख हतप्रभ रह गई। ससुराल वालों ने शादी से पहले उसके समलैंगिक होने की बात छिपाई थी।

ये कहना है शादी में धोखा खाई हरिद्वार निवासी युवती का। युवती ने महिला आयोग में शिकायत की है। हरिद्वार निवासी युवती का कहना है कि उसकी शादी फरवरी में यमुनानगर, हरियाणा निवासी लड़के से हुई थी। शादी में उसे बुरी तरह धोखा मिला है। लड़की के माता-पिता का कहना है कि लड़का समलैंगिक था तो हमारी बेटी से शादी कर उसकी जिंदगी क्यों बर्बाद की।

उन्होंने बताया कि बेटी की अरेंज मैरिज एक परिचित के माध्यम से हुई थी। उन्होंने बताया कि दहेज में कार मांगी थी। उन्हें 21 लाख कैश और गाड़ी दी थी। बेटी को 18 तोला सोना भी दिया था। शादी में कुल मिलाकर 80 लाख रुपये खर्च किए थे। लड़की ने बताया कि शादी से पहले लड़के से मिलने के लिए कहते थे, लेकिन लड़का कभी नहीं आया। रात 10.00 बजे के बाद लड़की को फोन नहीं करता था और कहता था कि वह जल्दी सो जाता है।

लड़के और उसके परिजनों ने लड़की को संस्कारी बनकर अपने जाल में फंसाया। वह कभी कॉल पर नहीं सिर्फ मैसेज में बात करता था। शादी के बाद लड़के के माता-पिता ने कहा कि लड़का मानसिक रूप से कमजोर है, इसलिए वह संबंध नहीं बनाएगा। लड़के की मां ने यह बात किसी को न बताने के लिए कहा था। युवती ने शिकायत कर महिला आयोग से कार्रवाई की मांग की है।

उत्तराखंड राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष कुसुम कंडवाल ने कहा कि झूठ की बुनियाद पर किसी लड़की से शादी करना अपराध है। इसमें लड़की का कोई दोष नहीं था, उसके साथ अन्याय हुआ है। ऐसे में लड़के और माता-पिता पर कार्रवाई होगी।

शेयर करें !
posted on : June 7, 2024 10:47 am