posted on : फरवरी 2, 2022 11:19 am
शेयर करें !

उत्तराखंड: आज इन जिलों के लिए येलो अलर्ट, अगले 24 घंटे जमकर होगी बारिश, रहें सावधान

  • भारी बारिश के चलते लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

  • अगले 24 घंटे के अंदर मैदान से लेकर पहाड़ तक भारी बारिश हो सकती है।

देहरादून : आसमान से लगातार आफत बरस रही है। भारी बारिश के चलते लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। लगातार हो रही बारिश के कारण भूस्खलन के चलते कई मार्ग बंद हैं। नदियां उफान पर हैं, जिसका असर मैदानी जिलों में नदी किनारे रहने वालों लोगों पर नजर आ रहा है। इस बीच मौसम विभाग ने एक बार फिर अलर्ट जारी किया है, जिससे लोगों की मुश्किलें और बड़ सकती हैं। राज्य के कई इलाकों में आज भी मौसम खराब बना हुआ है। वहीं, चंपावत, नैनीताल, ऊधमसिंह नगर में अगले 24 घंटे में भारी से बहुत भारी बारिश के आसार है।

येलो अलर्ट जारी 

इसको देखते हुए येलो अलर्ट जारी किया है। अगले 24 घंटे के अंदर मैदान से लेकर पहाड़ तक झमाझम बारिश की संभावना जताई है। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक विक्रम सिंह ने बताया कि चंपावत, नैनीताल, ऊधमसिंह नगर में भारी बारिश की संभावना है। बाकी जिलों में तेज गर्जना के साथ हल्की से लेकर मध्यम बारिश की संभावना है। राजधानी दून के आसमान में बादल छाए रहेंगे।

229 सड़कें बंद 

वहीं, प्रदेश में हुई भारी बारिश के बाद सड़कों पर मलबा और बोल्डर आने से 14 स्टेट हाईवे समेत कुल 229 सड़कें बंद हो गईं। सोमवार को 86 सड़कों को खोला जा सका। सड़कों को खोलने के काम में 297 जेसीबी मशीनों को लगाया गया। लगातार हो रही बारिश के चलते सड़कों को खोलने के काम में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। लोक निर्माण विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, प्रदेश में 14 स्टेट हाईवे, 7 मुख्य जिला मार्ग, 9 अन्य जिला मार्ग, 73 ग्रामीण सड़कें और 126 पीएमजीएसवाई की सड़कें बंद हैं।

प्रमुख बंद राज्य मार्ग 

कमद-अयारखाल मोटर मार्ग, लंबगांव-घनसाली, रुद्रप्रयाग-पोखरी गोपेश्वर मार्ग, बिरही-गौणा मोटर मार्ग, थराली-देवाल-वाण मार्ग, कर्णप्रयाग-कंडारा-सोनला मार्ग, गौचर-सिदौली मोटर मार्ग, टिहरी-घनसाली-तिलवाड़ा मार्ग, खिर्सू-खांकरा मोटर मार्ग, मक्कू-भीरी मार्ग आदि शामिल हैं। इस मानसून सत्र में अब तक 1752 सड़कें बंद हुई हैं, इनमें से 1523 सड़कों को खोला जा चुका है। उन्होंने कहा कि लगातार हो रही बारिश के चलते सड़कों को खोलने के काम में बा

error: Content is protected !!