posted on : दिसंबर 28, 2022 8:00 am
शेयर करें !

उत्तराखंड: विभागीय मंत्रियों ने नहीं ली सुध, CM धामी ने दिए ये निर्देश

देहरादून: पहाड़ी मार्गों पर लगातार हो रही दुर्घटनाओं को लेकर परिवहन और लोक निर्माण विभाग के मंत्रियों की चुप्पी के बाद सीएम पुष्कर सिंह धामी को खुद एक्शन लेना पड़ा। जो काम लोक निर्माण विभाग मंत्री सतपाल महाराज और परिवहन मंत्री चंदनराम दास का था, वह काम मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को करना पड़ा।  इससे दोनों ही मंत्रियों पर सवाल खड़े होने लगे हैं।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जनपद चमोली, उत्तरकाशी, रूद्रप्रयाग, टिहरी एवं पौड़ी के चारधाम यात्रा मोटर मार्ग पर चिह्नित 77 अतिसंवेदनशील स्थलों पर क्रेश बैरियर लगाए जाने के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री ने इस संबंध में कैबिनेट मंत्री लोक निर्माण विभाग सतपाल महाराज और कैबिनेट मंत्री परिवहन विभाग चंदनराम दास को अर्द्ध शासकीय पत्र लिखकर चिह्नित संवेदनशील स्थलों पर दो चरणों में क्रेश बैरियर लगाने के लिए कहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यात्रा मार्गों में सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली क्षति की रोकथाम और दुर्घटनाग्रस्त वाहनों को गहरी खाई में गिरने से बचाने के लिए क्रेश बैरियर लगाये जाने की नितान्त आवश्यकता है।

चारधाम यात्रा मार्ग पर अभी भी कई ऐसे अति संवेदनशील स्थल मौजूद हैं, जहां 2 क्रेेश बैरियर के मध्य काफी फासला है, जो कि उक्त दुर्घटनाओं को रोकने में अपर्याप्त हैं। पुलिस विभाग की ओर से जनपद चमोली, उत्तरकाशी, रूद्रप्रयाग टिहरी एवं पौड़ी के चारधाम यात्रा मोटर मार्ग पर 77 अतिसंवेदनशील स्थलों को चिन्हित किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कैबिनेट मंत्री लोक निर्माण विभाग सतपाल महाराज और कैबिनेट मंत्री परिवहन विभाग चंदनराम दास को इन अतिसंवदेनशील स्थलों में से शीर्ष-10 स्थलों पर शीर्ष प्राथमिकता के आधार पर प्रथम फेस में 10 क्रैश बैरियर लगवाने और उसके बाद शेष 67 स्थलों पर भी क्रैश बैरियर लगवाने के लिए  अपने स्तर से तत्काल आवश्यक कार्यवाही करने को कहा है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!