posted on : जनवरी 27, 2022 11:39 am
शेयर करें !

उत्तराखंड : नवजात बच्चे की निर्मम हत्या से सनसनी, शव से सिर और दोनों हाथ गायब!

देहरादून: नवजात बच्चों के शव मिलना कोई नई बात नहीं है। लेकिन, देहरादून-मसूरी रोड पर एक नवजात बच्चे का शव मिला, जिससे देखकर पुलिस भी दंग रह गई। पुलिस की मानें तो ऐसा मामला पहली बार सामने आया है, जिसमें किसी बच्चे के शव को काटरकर इस तरह से फेंका गया। यह मामला शुक्रवार का है। बताया जा रहा है कि शव को किसी धारदार हथियार से काटा गया है। नीले रंग की चादर में लिपटे शव के सिर और दोनों हाथ गायब हैं।

मीडिया रिपोर्ट का अनुसार पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में रखवा दिया है। सीसीटीवी फुटेज और अस्पतालों में पूछताछ के आधार पर पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। शुक्रवार दोपहर करीब दो बजे सूचना पुलिस को सूचना मिली थी। शव को इस तरह कटा हुआ देखकर पुलिस भी सकते में आ गई। नवजात बालक अभी एक-दो दिन पहले ही जन्मा हुआ लग रहा था। गर्भनाल भी ठीक से नहीं सूखी थी। प्रथमदृष्टया उसकी हत्या की आशंका जताई जा रही है, लेकिन नवजात की इस तरह से हत्या की बात भी समझ से परे है।

उत्तराखंड ब्रेकिंग: STF ने सचिवालय रक्षक भर्ती का किया खुलासा मामले में पहली गिरफ्तारी पेनड्राइव में ले गया था पेपर, लाखों में बेचा 

पुलिस सीसीटीवी कैमरों की मदद से इस रास्ते पर आने-जाने वालों को देखा जा रहा है। मगर, बीते दो दिनों से क्षेत्र में घना कोहरा है तो फुटेज भी साफ नहीं दिखाई दे रही है। ऐसे में पुलिस के पास दूसरा रास्ता अस्पतालों में जाकर चेक करने का है। एसपी सिटी सरिता डोबाल ने बताया कि हाल के दिनों में जिन-जिन अस्पतालों में प्रसव हुए हैं, उनकी जांच की जा रही है। इसके साथ ही आशाओं और आंगनबाड़ी केंद्रों में भी गर्भवती महिलाओं के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।
नवजात का सड़क किनारे मिला शव।

शव जिस चादर में लिपटा था, ऐसी चादर अस्पताल में ही इस्तेमाल होती हैं। प्राथमिक पड़ताल में लग रहा है कि उसे सर्जिकल ब्लेड से काटा गया हो, लेकिन किसी भी सर्जरी या इलाज में इस तरह से काटे जाने की बात भी गले नहीं उतर रही है। यदि कोई शिकायत करता है तो पुलिस मुकदमा दर्ज करेगी। हालांकि, शिकायत न आने के बाद भी पुलिस अपनी ओर से मुकदमा दर्ज करती है। पुलिस के अनुसार, इस तरह से किसी बच्चे का शव पहली बार देखा गया है। आमतौर पर किसी वयस्क का इस तरह से शव मिलता है तो इसे हत्या ही माना जाता है।

error: Content is protected !!