posted on : सितंबर 21, 2022 8:03 pm
शेयर करें !

उत्तराखंड : CM और CS तक पहुंचा पौड़ी SDM का मामला, कॉमरेड इंद्रेश मैखुरी ने की जांच की मांग

चमोली: पौड़ी SDM आकाश जोशी का एक वीडियो आज सुर्खियों में बना हुआ है. उस वीडियो में वह एक युवक को धमका कर गालियां दे रहे हैं. युवक कांग्रेस पार्टी से जुड़ा हुआ बताया जा रहा है। बताया जा रहा है कि वह युवाओं के सहयोग के लिए वहां गया था. लेकिन, एसडीएम ने उसे बाहर निकल जाने का फैसला सुना दिया.

इस मामले मामले में भाकपा (माले) के गढ़वाल सचिव कॉमरेड इंद्रेश मैखुरी ने मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव को पत्र लिखकर शिकायत की है. सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल है, जिसमें कुछ लोग एक युवा से धक्का मुक्की और गाली-गलौच कर रहे हैं.

पता करने पर बताया गया कि गाली-गलौच करने वाले शख्स उपजिलाधिकारी, पौड़ी आकाश जोशी हैं. यह प्रश्न नहीं है कि जिसके साथ वे ऐसा कर रहे हैं, वह कौन है, उसका अतीत क्या है.

प्रश्न यह कि क्या उपजिलाधिकारी जैसे पद पर बैठे व्यक्ति को सार्वजनिक तौर पर किसी गाली देने और धक्कामुक्की करना का कोई वैधानिक या प्रशासकीय अधिकार है ? मेरी अधिकतम जानकारी के अनुसार किसी अधिकारी या कर्मचारी को ऐसा कोई अधिकार देश का कोई कानून नहीं देता.

उत्तराखंड ब्रेकिंग :UKSSSC पेपर लीक मामले में एक और शिक्षक गिरफ्तार, यहां था तैनात, हुआ ये खुलासा

उन्होंने कहा कि जो उपजिलाधिकारी स्वयं सार्वजनिक तौर पर गाली-गलौच करे, वह किसी से सभ्य आचरण या कानून सम्मत आचरण की अपेक्षा कैसे कर सकता है?

एक उच्च पद पर बैठे हुए, पढ़े-लिखे पीसीएस अफसर और सड़क छाप गुंडों में अंतर की रेखा बेहद स्पष्ट रहनी चाहिए. दुर्भाग्य से इस प्रकरण में उपजिलाधिकारी श्री आकाश जोशी और उनके साथ मौजूद कर्मचारियों ने इस रेखा को मिटाने की हद तक धुंधला कर दिया.

उपजिलाधिकारी एवं उनके साथ मौजूद अन्य कर्मचारियों का व्यवहार बेहद आपत्तिजनक, अशोभनीय और पद की गरिमा के विपरीत है. अतः उनके विरुद्ध विधि सम्मत कार्यवाही अमल लाई जाए और उन्हें उनके पदों से तत्काल निलम्बित करते हुए विरत किया जाए.

error: Content is protected !!