posted on : फरवरी 20, 2022 10:21 am
शेयर करें !

उत्तराखंड ब्रेकिंग : बादल फटने से भारी नुकसान, महिला की मौत, कई वाहन बहे

पौड़ी: जिले के यमकेश्वर ब्लॉक के ऊपरी क्षेत्रों में बादल फटने से ताल घाटी, हेवल घाटी और यमकेश्वर की सतरुद्रा नदी मेंबाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। यमकेश्वर क्षेत्र में कुछ जगह वाहनों के बहने और भू-कटाव से भारी नुकसान की हुआ है। हेवल घाटी में नदी में आए ऊफान से कुछ कार और घरों को नुकसान पंहुचा है। वहीं ताल घाटी के दिवोगी ग्राम सभा के कंडरह गांव में धनवीर सिंह रावत की दुकान और गोशाला बह गयी है। जबकि गांव भी खतरे की जद में आ गया है।

ताल घाटी का सब जगह से सम्पर्क कट गया है। यहां नदी तटीय क्षेत्र में स्थानीय लोग सारी रात डरकर जागते रहे। यमकेश्वर मंदिर के प्रांगण में भी नुकसान की सूचना है। वहीं पनयारी गदेरे में अतिवृष्टि से काफी नुकसान होने की सूचना मिल रही है। यहां कई वाहन नदी के तेज बहाव में बहने की सूचना है। नीलकंठ के आसपास के गांव मराल, तलाई व खैरखाल आदि में भी नुकसान होने की खबर है।

यमकेश्वर के बैरागढ़ में अतिवृष्टि के चलते बैरागढ़ गधेरे में भारी ऊफान आ गया। जिससे यहां आधा दर्जन चौपाया व दुपहिया वाहन नदी में बह गए। कुछ वाहन अभी भी मलबे में दबे हुए हैं। स्थानीय निवासी व क्षेत्र पंचायत सदस्य सुदेश भट्ट ने बताया कि बैरागढ़ क्षेत्र में कई कैंप भी हैं, जिनमें पर्यटक ठहरे हुए थे।

हालांकि किसी कैंप को नदी के बहाव से नुकसान नहीं पहुंचा। मगर, यहां खड़े पर्यटकों के वाहन वह गए हैं। उन्होंने बताया कि बैरागढ़ में ही चार कारें नदी में बह गईं हैं। जबकि दो कारें अभी भी मलबे में दबी हैं। कुछ स्कूटी व बाइक भी यहां बही हैं। यमकेश्वर के ही वीरकाटल क्षेत्र में कुछ मकान ढह गए हैं। जनपद पौड़ी गढ़वाल के तहसील यम्केश्वर के ग्राम बिनक में मकान के छतिग्रस्त होने से एक वृद्ध महिला की मृत्यु हुई है।

राजस्व उपनिरीक्षक उदयपुर तल्ला महिपाल सिंह पुलिस की ओर से जिलाधिकारी पौड़ी को भेजी गई सूचना में अवगत कराया गया है कि शुक्रवार की रात अतिवृष्टि के कारण मकान की दीवार गिरने से ग्राम बिनक उदयपुर तल्ला तीन तहसील यम्केश्वर में दर्शनी देवी (70 वर्ष) पत्नी मार्गशीरु की दबकर मौत हो गई है। ग्राम वासियों की मदद से शव को निकाल लिया गया।

देर रात बारिश के चलते विधानसभा यमकेश्वर के अंतर्गत तीन मुख्य सड़क मार्ग रूट में लक्ष्मण झूला, दुगड्डा, धुमाकोट, नीलकंठ मोटर रोड और नालीखाल पोखरी खेत मुख्य सड़क मार्ग अवरुद्ध है। इसके अतिरिक्त अन्य स्थानीय संपर्क मार्ग भी जगह जगह अवरुद्ध होने की सूचना है।

लोक निर्माण विभाग निर्माण खंड दुगड्डा द्वारा उपरोक्त मुख्य सड़क मार्गों को खोलने के लिए गट्टू घाट, पोखाल और गरुड़ चट्टी में जेसीबी तैनात की गई है। इसके अतिरिक्त दो और जेसीबी भी तैनात की जा रही है।

टिहरी में बीती रात भारी बारिश से जिले में कई ग्रामीण इलाकों में नुकसान की सूचना है। जौनपुर ब्‍लाक के घुड़साल गांव और कुमालड़ा में पुल ओर रास्ते टूटने से ग्रामीण गांव में ही कैद हो गए हैं। डीएम मौके के लिए रवाना हो गए हैं। घनसाली तहसील में नैलचमी गदेरे के ऊफान पर आने से कई हेक्टेयर कृषि भूमि मलबे से पट गई है।

error: Content is protected !!