उत्तराखंड : मुश्किल हालातों के बीच, SDRF ने ग्रामीणों के साथ मिलकर ऋषिगंगा झील से डिस्चार्ज किया पानी

उत्तराखंड : मुश्किल हालातों के बीच, SDRF ने ग्रामीणों के साथ मिलकर ऋषिगंगा झील से डिस्चार्ज किया पानी
शेयर करें !

चमोली : विषम परिस्थितियों और मौसम में SDRF जवानों ऒर ग्रामीणों ने झील का मुहाना तोड़ कर दवाब को कम किया है।  तपोवन जलभराव क्षेत्र में पहुँची SDRF टीम ने आज ग्रामीणों के साथ मिलकर झील के मुहाने से मलवा और बहकर आए बड़े पेड़ों को हटा कर जल नकासी की रफ्तार को बढ़ा दिया है।

रिद्धिम अग्रवाल DIG SDRF एवम अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी यू .एस.डी.एम.ए. उत्त्तराखंड ने जारी कर कहा है कि SDRF माउंटेनिरिंग टीम के द्वारा 3 दिन में ग्रामीणों की सहायता से झील के मुहाने को 20 फिट से 50 फिट तक खोल दिया है, जिससे झील के जल स्तर में 1 फिट से भी अधिक की गिरावट आई हैै।

ज्ञातव्य हो कि वेज्ञानिको के 10 सदस्यीय दल के साथ SDRF के 7 कर्मी ओर कुछ पोर्टल जल भराव क्षेत्र में  रुके हुए हैं, जहां वैज्ञानिकों द्वारा झील से उत्पन्न खतरे का आकलन करना तथा उक्त आकलन पश्चात इसका निराकरण हेतु तकनीकी परामर्श देना है।

वहीं, SDRF जवान और ग्रामीण वेज्ञानिक दल को सुरक्षा देने के साथ ही झील के पानी की निकासी कर दवाब को कम कर रहे है। SDRF सेनानायक नवनीत भुल्लर ने कहा की हमारे जवान लगातार कार्य कर रहे हैं हमारा उद्देश्य पानी के दवाब को समाप्त करना है हम लगातार ही QDA ओर सेटेलाइट फोन के माध्यम से टीम के सम्पर्क में बने हुए है।

शेयर करें !
editor

editor

Leave a Reply

error: Content is protected !!